कोरोना के बेहतर उपचार के लिए दो और चिकित्सालय अधिकृत

कोरोना के बेहतर उपचार के लिए दो और चिकित्सालय अधिकृत

प्रयागराज: कोविड-19 के प्रसार को रोकने और उपचाराधीनों के बेहतर इलाज़ के लिए स्वास्थ्य विभाग हर संभव प्रयास कर रहा हैI इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने सरकारी के साथ निजी चिकित्सालयों को भी कोविड उपचार के लिए अधिकृत किया है I इसी क्रम में जनपद के एल-2 कोविड चिकित्सालयों के रूप में यूनाइटेड मेडिसिटी हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज और ए.एम.ए. चिकित्सालय को अधिकृत किया गया है ताकि कोरोना उपचाराधीनो को बेहतर और सुगम इलाज़ मिल सके I


मुख्य चिकित्साधिकारी प्रयागराज मेजर जी.एस.बाजपेई के अनुसार जनपद में कोरोना मरीजों की सुगमता और बेहतर उपचार के लिए जनपद के रावतपुर स्थित यूनाइटेड मेडिसिटी हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज और मोहिउद्दीन स्थित श्री सांई वात्सल्य ए.एम.ए. चिकित्सालय को अधिकृत किया गया है जहाँ कोरोना मरीजों को एल-2 स्तर की सुविधाएँ और उपचार मिलेगा I

अधिकृत चिकित्सालयों के माध्यम से समुदाय के कोविड उपचाराधीनों की पहुँच चिकित्सा सेवाओं तक और आसान हो जाएगी I सरकार ने निजी चिकित्सालयों के लिए चिकित्सा शुल्क पहले ही निर्धारित किया हुआ है I इसमें चिकित्सालय की मान्यता के आधार पर और कोविड रोगियों हेतु राष्ट्रीय गाइडलाइन के अनुरूप कई सुविधाओं के साथ पैकेज के रूप में मध्यम रूप से मरीजों के लिए आइसोलेशन बेड के लिए 8000-10000 रुपये, गंभीर मरीजों के लिए बिना वेंटीलेटर के आई.सी.यू. 13000-15000रुपये, तथा अतिगंभीर रूप मरीजों के लिए वेंटीलेटर के साथ आई.सी.यू. सुविधा के लिए 15000-18000 रुपये शुल्क निर्धारित है I

चिकित्सालयों में शासन के पहले आदेश के अनुसार ही प्रतिदिन का उपचार शुल्क लिया जायेगा I निर्धारित दर से अधिक शुल्क लेने पर एपेडेमिक डिजीज एक्ट 1897 तथा उ.प्र. महामारी कोविड-19 विनियमावली 2020 का उल्लंघन मानते हुए निजी चिकित्सालयों पर संगत धाराओं के अंतर्गत विधिक कार्यवाही की जाएगी I

Show More

Related Articles