कोरोना काल एवं महिलाओं की स्थिति पर कॉल्विन में हुई कार्यशाला

कोरोना काल एवं महिलाओं की स्थिति पर कॉल्विन में हुई कार्यशाला

प्रयागराज: मिशन शक्ति के अन्तर्गत एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन कॉल्विन अस्पताल के सभागार में हुआ। इसमे “कोरोना काल एवं महिलाओं के शारीरिक मानसिक एवं सामाजिक सुरक्षा” पर बात हुई। इस कार्यशाला का आयोजन अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वी.के. मिश्रा एवं कॉल्विन अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुषमा श्रीवास्तव के निर्देशन में हुआ। कार्यक्रम का संचालन नैदानिक मनोवैज्ञानिक डॉ. ईशान्या राज ने किया।

कार्यक्रम में जनपद के विभिन्न पेशों से जुड़ी महिलाओं ने हिस्सा लिया व कार्यक्रम में मौजूद अनुभवी डॉक्टर्स, समाजसेवी एवं मनोचिकित्सक से कोरोनाकाल में महिलाओं की समस्याओं से संबंधित सवाल किए। डॉ. सुषमा श्रीवास्तव ने कहा कि “मुझे एक घंटे पहले कोरोना वैक्सीन का पहला टीका लगा है”। मुझे किसी प्रकार कि स्वास्थ संबंधी समस्या नहीं महसूस हो रही है। इसलिए महिलाओं को वैक्सीन हेतु हमें प्रेरित करना होगा। महिलाओं पर आधारित ऐसी कार्यशालाओं में हर वर्ग की महिलाएं हिस्सा लें, अपने सवालों को हमारे बीच रखें। महिलाएं मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ रहेंगी तभी हम एक स्वस्थ परिवार कि परिकल्पना कर सकते हैं।

डॉ. वी.के. मिश्रा ने कोरोना संबंधी भ्रम और अफवाहों पर प्रकाश डालते हुए वैक्सीनेशन और उसके सही ट्रीटमेंट पर जानकारी दी। साथ ही कहा कि हर महिला को अपने स्वास्थ, सुरक्षा व अधिकारों के प्रति हमेशा सजग रहना चाहिए। डॉक्टर या पुलिस से अपनी समस्या बताते समय कुछ भी ना छिपाएँ। नैदानिक मनोवैज्ञानिक डॉ. ईशान्या राज ने महिलाओं को कठिन परिस्थिति में मानसिक रूप से सजग और मजबूत रहने हेतु महत्वपूर्ण जानकारियां साझा कि व कहा कि किसी महिला को किसी प्रकार कि भी सलाह कि जरूरत है तो हेल्पलाइन नंबर 7318257567 पर नि:शुल्क मनोवैज्ञानिक परामर्श लें।

कार्यशाला में डॉ माया देवी, सीनियर कंसलटेंट एवं डॉ. पुष्पा पाल गायनेकोलॉजिस्ट ने महिलाओं को कोरोना काल में शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने हेतु अपनाए जाने वाले सावधानियों के बारे में जानकारियां दी l सामाजिक स्वास्थ्य पर निर्मला पासवान, नेत्री जूही जयसवाल, समाजसेवी व आशा ज्योति केंद्र कि प्रभारी शिष्या सिंह राठौर ने कोरोना के दौरान समाजिक, घरेलू और भावनात्मक रूप से हो रहे हिंसा कि शिकार महिलाओं के सशक्तिकरण से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां साझा कर सामाजिक स्वास्थ्य मजबूत करने के तरीके बताएं l

Show More

Related Articles