प्रयागराज : फाइलेरिया की जाँच के लिए होगा नाईट ब्लड सर्वे

प्रयागराज : फाइलेरिया की जाँच के लिए होगा नाईट ब्लड सर्वे

प्रयागराज: जनपद में फाइलेरिया की जाँच के लिए दो सप्ताह तक नाइट ब्लड सर्वे कराया जायेगा। यह सर्वे प्रस्तावित आई.डी.ए. कार्यक्रम 2020-21 के आयोजन से पूर्व किया जायेगा। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धनूपुर, प्रतापपुर, माण्डा, बहरिया, चाका एवं कोटवा नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खरकोनी एवं तेलियरगंज के अन्तर्गत आने वाले क्षेत्रों में यह सर्वे होगा।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. प्रभाकर राय ने बताया कि जनपद में फाइलेरिया की रोकथाम के लिए 4 मार्च से लेकर 17 मार्च तक नाईट ब्लड सर्वे किया जायेगा। इसमें फाइलेरिया की जाँच के लिए 4 सेन्टीनल एवं 4 रैन्डम साइट्स चिन्हित की गई हैं। इसके अन्तर्गत स्वास्थ्य विभाग की टीम रात्रि 9 बजे से 12 बजे के मध्य हर साइट पर जा-जा कर कम से कम 500 लोगों के रक्त का नमूना लेकर रक्त पट्टिका तैयार करेंगी। प्रत्येक साइट में नाईट ब्लड सर्वे के प्रचार-प्रसार के लिए टीम लगायी गयी हैं जो समुदाय को फाइलेरिया और उसके उन्मूलन कार्यक्रम पर जागरूक भी कर रही हैं। सर्वे के बाद एम.एफ. धनात्मक रोगियों को तीन माह के अंतराल पर वर्ष में 4 बार 12 दिवसीय उपचार उपलब्ध कराया जायेगा। सर्वे गुणवत्तापूर्ण हो इसके लिए प्रत्येक टीम में एक-एक चिकित्सक पर्यवेक्षक के रूप में रहेंगे।

जिला मलेरिया अधिकारी के.पी.द्विवेदी ने बताया कि चिन्हित साईट में सेंटिनल साईट के तौर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धनूपुर, प्रतापपुर, माण्डा और यू.पी.एच.सी. तेलियरगंज के सरायपीठा, सेमरी, मांडा और जोधवल को चुना गया हैI इसी तरह रैंडम साईट के तौर पर बहरिया, चाका एवं कोटवा तथा नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खरकोनी के सरायमदन, ददरी तालुका नौगवां, गोतावां और प्रयागपुर को चिन्हित किया गया हैI

जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि नाईट ब्लड सर्वे टीम में लैब टेक्नीशियन, आशा, ए.एन.एम., एच.ई.ओ. के साथ ही बी.पी.एम. एवं बीसी.पी.एम. भी रहेंगी। स्वास्थ्य केन्द्रों बनी रक्त पट्टिकाओं के एकत्रीकरण, स्टेनिंग और परीक्षण कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जायेगा। परीक्षण की हुई रक्त पट्टिकाऔं में सभी पॉजिटिव एवं दस प्रतिशत निगेटिव रक्त्त पट्टिकाओं की जाँच को क्रॉस चेक करने के लिए सी.एम.ओ. कार्यालय भेजा जायेगा। फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम में तकनीकी सहयोग प्रदान कर रही संस्था पाथ के नोडल अधिकारी ने बताया कि नाइट ब्लड सर्वे के आयोजन से पहले सभी साइट्स के लैब टेक्नीशियन को तकनीकी प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

Show More

Related Articles