जिला महिला चिकित्सालय में ‘दक्षता’ प्रशिक्षण शुरू

जिला महिला चिकित्सालय में ‘दक्षता’ प्रशिक्षण शुरू

खालसा न्यूज़डेस्क/प्रयागराज

प्रयागराज- जिला महिला चिकित्सालय में ब्रहस्पतिवार से प्रसव सेवा पर मण्डल स्तरीय प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण प्रारम्भ हुआ। ‘दक्षता’ नाम के इस प्रशिक्षण में नर्स मेंटर को प्रसव के समय आवश्यक कौशल पर दक्षता के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है।

माँ और बच्चे दोनों का जीवन सुरक्षित

जिला महिला चिकित्सालय की सीनियर कंसलटेंट व प्रशिक्षक डॉ. तबस्सुम बानो ने बताया मण्डल स्तरीय इस प्रशिक्षण में नर्स मेंटर को प्रशिक्षित किया जा रहा है। इस प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य मातृ मृत्यु दर और शिशु मृत्यु दर को कम करना है। प्रसवपूर्व प्रसव पीड़ा शुरू होने से लेकर प्रसव होने के बाद के दो घन्टे बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं। इस पूरे समय में महिला को उचित देखभाल और उपचार देकर माँ और बच्चे दोनों का जीवन सुरक्षित किया जा सकता है।

उच्च स्तरीय कौशल व दक्षता के लिए

प्रशिक्षण में मुख्यतः प्रसव के समय की देखभाल और उपचार की बारीकियों पर उच्च स्तरीय कौशल व दक्षता के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है।
प्रशिक्षण में डॉ. स्मृति और डॉ. सोनाली भंडारी ने प्रतिभागियों को प्रसव अवस्था से जुड़ी बारीकियों पर जानकारी दी। प्रशिक्षण समन्वयक अंकिता पाण्डेय ने बताया कि सभी प्रतिभागी अपने-अपने स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रसव सेवा प्रदान कर रहे हैं। इस प्रशिक्षण के बाद सभी प्रतिभागियों का कौशल और विकसित होगा। इसके बाद सभी मास्टर ट्रेनर के रूप में अपने केन्द्रों पर कार्यरत नर्सों को उनके कार्य में दक्षता व कुशलता के लिए प्रशिक्षित करेंगे। प्रशिक्षण का उद्देश्य मातृत्व स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर करना है।

Show More

Related Articles