एबीवीपी सिर्फ राजनीतिक दल के अजेंडे का हिस्सा नहीं है, यह दुनिया का सबसे बड़ा छात्र संगठन-योगी आदित्यनाथ

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 65वें अधिवेशन को सम्बोधित कर रहे थे योगी

खालसा न्यूज़
आगरा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने दिखा दिया कि दल से बड़ा देश होता है। आज भारत दुनिया को शांति का संदेश देने में सक्षम है। यदि दुश्मन हमारे देश पर हमला करेगा तो उसका मुंहतोड़ जवाब देने में भी सक्षम हैं। यह बात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही. वह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 65वें अधिवेशन को सम्बोधित कर रहे थे.
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश राम, कृष्ण और शंकर की आधार भूमि है। पूर्व से पश्चिम तक सिर्फ कृष्ण नजर आते हैं अब कश्मीर से कन्याकुमारी तक राम नजर आएंगे।
सीएम ने कहा, ‘छात्र शक्ति राष्ट्र शक्ति है। एबीवीपी सिर्फ राजनीतिक दल के अजेंडे का हिस्सा नहीं है, यह दुनिया का सबसे बड़ा छात्र संगठन है जो एक दिन में नहीं बना। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्र शक्ति को राष्ट्रवाद का पाठ सिखाया है।’

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग इस देश को कमजोर करना चाहते हैं, उन्होंने जाति, धर्म मजहब का सहारा लिया। अभी देश में दो बड़ी घटनाएं हुईं। जम्मू-कश्मीर से 370 हटी। लोग कहते थे कि बहुत कुछ हो जाएगा लेकिन एक तिनका तक नहीं हिला। 370 को खत्म कर आतंक की विषबेल को खत्म किया। देश की कीमत पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

योगी आदित्यनाथ ने अधिवेशन में कहा कि पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने दिखा दिया कि दल से बड़ा देश है। सीएम ने कहा कि 370 और राम जन्मभूमि के फैसले से देश ने मानवता, शांति और सौहार्द की मिसाल दुनिया के सामने प्रस्तुत की है। साथ ही यह भी बताया है कि यदि दुश्मन आंख टेढ़ी करेगा, आंतरिक सुरक्षा से खिलवाड़ करेगा तो भारत मुंहतोड़ जवाब देगा। यह पीढ़ी गौरवशाली है। इसके सामने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया गया। अब अयोध्या में श्रीराम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है।

सीएम योगी ने कहा कि जब सरकार आयी थी तो बेसिक शिक्षा परिषद की स्थिति खराब थी। यह स्थिति थी कि लगता था कि स्कूल बंद हो जाएंगे। इसलिए स्कूल चलो अभियान चलाया। कई जगह प्रॉक्सी टीचर थे। व्यवस्थाओं का सुधार किया। जिसके बाद 50 लाख नए छात्रों की भर्ती हुई। 1 लाख विद्यालयों में जन सहभागिता के आधार पर सुधार हुआ। स्कूलों को गोद लेकर 92000 स्कूलों का सुधार किया। पिछली सरकारें 70- 72 वर्षों से क्या कर रही थीं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में 18 अटल आवासीय विद्यालय बनाए जाएंगे। आवासीय विद्यालयों में अनाथ, श्रमिकों के बच्चों को पढ़ाएंगे। अट्ठारह साल के होने के बाद भी उनका साथ नहीं छोड़ेंगे, उन्हें उच्च शिक्षा देंगे। रुचि के आधार पर स्किल, खेल या किसी अन्य क्षेत्र में आगे बढ़ाएंगे। राम, कृष्ण और शंकर की भूमि पर कोई अनाथ नहीं हो सकता।

सोमवार सुबह तय समय पर मुख्यमंत्री आगरा कॉलेज मैदान पर चल रहे एबीवीपी के 65वें अधिवेशन में शिरकत करने के लिए खेरिया हवाई अड्डे पर पहुंचे। यहां उनका स्वागत मेयर नवीन जैन और मंत्री डॉ. जीएस धर्मेश ने किया। आगरा कॉलेज ग्राउंड पर चल रहे एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में महाराष्ट्र के सागर रेड्डी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्राध्यापक यशवंतराव केलकर युवा पुरस्कार दिया।

Show More

Related Articles