विकास, सुरक्षा और गरीबी से कांग्रेस का कोई सरोकार नहीं: सीएम योगी आदित्यनाथ 

CM yogi adityantah targeteed on congress


खालसा न्यूज डेस्क / लखनऊ। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास, सुरक्षा और गरीबी से कांग्रेस का कभी कोई सरोकार था ही नहीं। सपा और बसपा ने तो जातिवाद और भाई-भतीजावाद के नाम पर समाज को सिर्फ बांटा। तीनों दलों ने मिलकर के भ्रष्टाचार और अराजकता का कीर्तिमान स्थापित किया।

मुख्यमंत्री बुधवार को बहराइच के बलहा विधानसभा क्षेत्र के मोतीपुर में आयोजित प्रदेश में विभिन्न शासकीय योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र कार्यक्रम में लाभार्थियों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि शासन की सभी योजनाओं का लाभ तय समय में शिविर आयोजित कर हर पात्र को उपलब्ध कराएं, जरूरी हो तो उसे लाभान्वित कराने के लिए उसके घर तक पहुंचे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव के शासन में जो माहौल था वही माहौल इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में पूरे देश में है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज बहराइच मेडिकल कॉलेज में 100 छात्रों के एडमिशन का कार्य पूरा हो गया है। अब बहराइच स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग लगाएगा। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज का नाम महाराज सुहेलदेव और अस्पताल का नाम महर्षि बालार्क के नाम पर रखा गया है।

कश्मीर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कश्मीर की समस्या की सबसे बड़ी जड़ धारा 370 थी, जिसे प्रधानमंत्री मोदी ने समाप्त कर दिया है। एक भारत और श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए हमें एक साथ मिलकर कार्य करना होगा।  जातिवाद की राजनीति करने वाले प्रदेश को सुरक्षा, पात्र नागरिकों को मकान और किसानों को सम्मान कभी नहीं दे पाए थे। उन्होंने कहा कि जो विकास कराएगा और सुरक्षा देगा जनता का समर्थन उसे ही मिलेगा।

इस दौरान कार्यक्रम में श्रम और रोजगार मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री के साथ क्षेत्रीय विधायक एवं भाजपा के अन्य नेता मौजूद थे।

इन परियोजनाओं का हुआ शिलान्यास और लोकार्पण

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 1230.68 लाख की 11 परियोजनाओं का शिलान्यास और 5736.74 लाख की 35 परियोजनाओं का लोकार्पण भी किया।

प्रमाण पत्र के साथ दिए सहजन के पौध

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत के 9700 लाभार्थियों को योजना का प्रमाण पत्र दिया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रतीकात्मक तौर पर 35 लाभार्थियों को योजनाओं का प्रमाण पत्र देने के साथ ही कुपोषण से बचाव के लिए सहजन के पौध भी दिए।

Show More

Related Articles